Shuddhi Panchakarma Ayurveda Hospital is now HIIMS (Hospital & Institute Of Integrated Medical Sciences)

बिना Transplant और Dialysis के मिला किडनी की बीमारी से आराम

Anil Kalyan एक किडनी पेशेंट थे। जब इन्होने अपना किडनी का टेस्ट करवाया तो पता चला की इनका GFR Level 8 आया जो की किडनी फेलियर का इशारा था। रिपोर्ट के अनुसार इन्हें CKD की समस्या पाई गई। पेशेंट को जब इस बात का पता चला तो फिर वो घबरा गए। उन्हें समझ नहीं आ रहा था की क्या किया जाए क्योंकि मॉडर्न मेडिसिन में CKD की बीमारी का मतलब है Kidney Failure और इस समस्या एक ही इलाज है Kidney Transplant. पेशेंट अपनी किडनी ट्रांसप्लांट नहीं करवाना चाहता था।

फिर किसी ने उन्हें HIIMS Derabassi Chandigarh के बारे में बताया। उन्हें पता लगा की HIIMS में बिना किसी ट्रांसप्लांट के और बिना किसी सर्जरी के ही CKD और अन्य किडनी रोगों का इलाज Naturopathy, Panchkarma और Grad System के जरिये किया जाता है। पेशेंट ने सोचा की क्यों न HIIMS में अपना इलाज़ करवाया जाये।

इसके बाद पेशेंट HIIMS में आया और यहाँ आकर डॉक्टर से मिला। डॉक्टर्स ने पेशेंट की सारी रिपोर्ट्स चेक की और उन्हें कहा की घबराने की जरुरत नहीं है। हम बिना सर्जरी या ट्रांसप्लांट के CKD की बीमारी को ठीक कर सकते हैं और जो GFR Level है उसे भी नार्मल कर सकते हैं। पेशेंट यह सुन के बहुत खुश हुआ।

इसके बाद पेशेंट का इलाज़ HIIMS में शुरू हुआ। HIIMS में पेशेंट को इलाज़ के दौरान HWI (Hot Water Emmersion), HDT (Head Down Tilt), Lower Leg Emmersion के साथ कई अन्य थेरेपी भी दी गयी। इसके साथ साथ पेशेंट को पंचकर्म थेरेपी, एक स्वस्थ आहार (DIP Diet), योग और मैडिटेशन सेशन भी दिये गए। ये प्रक्रिया कुछ महीने चली और जब पेशेंट को लगा की उनकी हालत में सुधार हो रहा है तो फिर उन्होंने फिर से अपना टेस्ट करवाने का सोचा।

इस बार जो टेस्ट में आया उसे देख के पेशेंट बहुत खुश हुआ। उसने खुद देखा की उसकी सेहत में सुधार हो रहा है। पेशेंट ने पहला टेस्ट 7 जनवरी 2022 को करवाया था और तब उनका GFR लेवल 8 था और दूसरे टेस्ट के बाद उनका GFR लेवल 15.5 आया। हैरान करने वाली बात एक और है की यह सब किडनी के फंक्शन में सुधार बिना किसी दवा और सर्जरी के हुआ था। इस केस स्टडी के साथ साथ पेशेंट की रिपोर्ट भी दी गयी हैं जिन्हें देख कर आप खुद जान सकते हैं की कैसे उनकी किडनी की बीमारी (CKD) में सुधार हुआ।